BREAKINGलेख

भारत के साथ सीरीज़ से पहले इंग्लैंड के कप्तान ने इंटरनेशनल क्रिकेट से लिया संन्यास

(England captain retires from international cricket ahead of series with India)

इंग्लैंड क्रिकेट टीम ने इतिहास में अब तक एक ही वनडे वर्ल्ड कप जीता है. यह खिताब भी 2019 में ओएन मोर्गन की कप्तानी में जीता था. मोर्गन ने आयरलैंड टीम से खेला था पहला इंटरनेशनल मैच…

इंग्लैंड की व्हॉइट बॉल क्रिकेट (वनडे-टी20) टीम के कप्तान ओएन मोर्गन ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है. 35 साल के मोर्गन का क्रिकेटिंग करियर 16 साल का रहा है. मोर्गन ने यह फैसला टीम इंडिया के खिलाफ सीरीज से ठीक पहले लिया है.

दरअसल, भारतीय टीम इन दिनों इंग्लैंड दौरे पर ही है. यहां रोहित शर्मा की कप्तानी में एक टेस्ट, तीन टी20 और तीन वनडे मैचों की सीरीज खेलनी है. सीमित ओवर्स (वनडे-टी20) की सीरीज का आगाज 7 जुलाई से होगा.

इंग्लैंड ने पहला वर्ल्ड कप मोर्गन की कप्तानी में जीता

हाल ही में मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया था कि मोर्गन मंगलवार को रिटायरमेंट का ऐलान कर सकते हैं. यह सच भी हुआ है. मोर्गन इंग्लैंड के सबसे सफल वनडे कप्तान रहे हैं. उन्होंने ही इंग्लैंड को अपनी कप्तानी में पहली बार वनडे वर्ल्ड कप (2019) खिताब जिताया है. मोर्गन ने 126 वनडे मैचों में इंग्लिश टीम की कप्तानी की, जिसमें टीम को 76 में जीत मिली.

मोर्गन ने करियर में कुल 248 वनडे मैच खेले, जिसमें 14 शतकों के साथ 7701 रन बनाए. टेस्ट में मोर्गन को ज्यादा मौका नहीं मिला. उन्होंने 16 टेस्ट खेले, जिसमें 2 शतक के साथ 700 रन बनाए.

मोर्गन ने 72 टी20 मैचों में इंग्लैंड की कप्तानी की

मोर्गन ने टी20 इंटरनेशनल में भी 72 मैचों में इंग्लैंड की कप्तानी की, जिसमें से 42 में जीत मिली. उन्होंने करियर में कुल 115 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले, जिसमें से 14 फिफ्टी के साथ 2458 रन बनाए. इस दौरान मोर्गन का स्ट्राइक रेट 136.18 का रहा.

आयरलैंड टीम से इंटरनेशनल में डेब्यू किया था

मोर्गन का जन्म आयरलैंड की राजधानी डबलिन में हुआ था. उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट की शुरुआत भी आयरलैंड के लिए खेलते हुए की थी. उन्होंने डेब्यू मैच 5 अगस्त 2006 को स्कॉटलैंड के खिलाफ वनडे खेला था. इसमें मोर्गन ने 99 रनों की पारी खेली थी

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button