BREAKINGविविध

मंकीपॉक्स के बढ़ सकते हैं केस, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चेताया,

मंकीपॉक्स के लक्षण चेचक के समान लेकिन हल्के होते हैं। मंकीपॉक्स आमतौर पर बुखार, चकत्ते और सूजी हुई लिम्फ नोड्स के साथ मनुष्यों में प्रकट होता है।
कोविड के बाद अब दुनिया पर मंकीपॉक्स वायरस का खतरा मंडरा रहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इसे लेकर चेताया है कि मंकीपॉक्स संक्रमण तेज हो सकता है। अब तक अफ्रीका, यूरोप के नौ देशों के अलावा अमेरिका, कनाडा व आस्ट्रेलिया में भी इसके मामले मिले हैं। इसे देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने भी राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र और आईसीएमआर को स्थिति पर कड़ी नजर रखने का निर्देश दिया है। आइये जानते हैं इस नए संक्रमण से जुड़ी 10 बड़ी बातें।
मंकीपॉक्स के बढ़ते मामलों के बीच डब्ल्यूएचओ की यूरोप इकाई ने शुक्रवार को इस मामले में आपात बैठक की। इसके एक शीर्ष अधिकारी ने बैठक के बाद कहा कि गर्मी बढ़ने के साथ ही यह वायरस और तेजी से फैल सकता है। डब्ल्यूएचओ के यूरोप स्थित क्षेत्रीय निदेशक हैंस क्लग का कहना है कि बड़े पैमाने पर होने वाले समारोहों, त्योहारों व पार्टियों आदि में यदि कोई मंकीपॉक्स संक्रमित शरीक हुआ तो वह अन्य लोगों में संक्रमण फैला सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button